रेप का युवती ने किया विरोध तो कर दी पीट-पीटकर हत्या-ग्रामीणों का हंगामा

रिपोर्ट ऋषिकेश शर्मा

लखीमपुर खीरी ।    दो सगी बहनों का जबरिया अपहरण करने के बाद उनकी हत्या करने का मामला अभी थमा भी नहीं था कि अब एक और लड़की की दिनदहाड़े पीट-पीटकर हत्या करने का मामला सामने आया है। छेड़छाड़ और दुष्कर्म का विरोध करने पर दो युवकों ने घर में घुसकर लड़की से मारपीट की। गंभीर रूप से घायल हुई लड़की ने जब 5 दिन के इलाज के बाद दम तोड़ दिया तो इस मामले का गांव वालों की ओर से हंगामा किए जाने के बाद खुलासा हुआ। मामला दो समुदाय से जुड़ा होने की वजह से गांव में भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गई है। 

 भीरा थाना  क्षेत्र के गांव में 12 सितंबर को हुई घटना के संबंध में जानकारी देते हुए पीड़िता लड़की की मां ने बताया है कि जब वह किसी काम से बाहर गई हुई थी और उसका बेटा रोजी रोटी के सिलसिले में काम पर गया हुआ था तो उसकी बेटी को घर में अकेला देखकर गांव के ही सलीमुद्दीन एवं आशिफ उसके घर में घुस आए और दोनों ने उसकी बेटी के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया।

 बेटी ने जब विरोध किया तो दोनों ने उसके साथ जमकर मारपीट कर दी। इस दौरान मची चीख-पुकार की आवाज को सुनकर वह मौके पर पहुंच गई और जब उसने बेटी से मारपीट का विरोध किया तो दोनों आरोपियों ने उसके ऊपर भी हमला कर दिया। जिस समय मेरी पिटाई हो रही थी तो मेरे चीखने चिल्लाने पर पड़ोस के लोग मौके पर पहुंच गए। गांव वालों को आता हुआ देखकर दोनों आरोपी फरार हो गए।मारपीट के दौरान उसकी बेटी एवं उसे अंदरूनी चोटें आई हैं। वह अपनी बेटी के साथ थाने पहुंचे और पुलिस को आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग करते हुए पुलिस को तहरीर दी। पीड़िता मां का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने तहरीर को अपने मनमाने ढंग से लिखवा लिया और मेरी तरफ से एफआईआर मारपीट के मामले में दर्ज की गई।

 पीड़िता के भाई का आरोप है कि जब वह अपनी बहन को लखीमपुर जिला अस्पताल में इलाज के लिए ले जा रहा था तो बारिश होने की वजह से वह लडकी को जिला अस्पताल नहीं ले  जा सके जिसके चलते शुक्रवार की देर शाम उसकी बहन ने दम तोड़ दिया है। 16 सितंबर को हुई लड़की की मौत के बाद गांव वालों ने घटना को लेकर जोरदार हंगामा किया और परिवार के लोगों ने लड़की का शव पोस्टमार्टम के लिए पुलिस को देने से मना कर दिया। मामला दो समुदाय से जुड़ा होने की वजह से गांव में अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात किया गया। पुलिस के समझाने के बाद देर रात गांव वाले और परिजन लड़की के शव को पुलिस को सौंपने को तैयार हुए। एसपी ने बताया है कि डॉक्टरों का पैनल लड़की का पोस्टमार्टम करेगा।  

मामले को संज्ञान में लेते हुए एस पी खीरी ने पड़रिया तुला चौकी इंचार्ज सुनील सिंह को निलम्बित  किया व एफआईआर में 304 की धारा बढ़ाई गई, भीरा पुलिस द्वारा तत्काल प्रभाव से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पीएम रिपोर्ट आने पर बढ़ सकती है,और कई संगीन धाराएं।

मामला दो समुदायों के होने के कारण लड़की के दाह संस्कार को लेकर मूसेपुर गाँव मे पीएससी तैनात की गई ताकि कोई बलबा न हो और शान्ति पूर्वक दाह संस्कार किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *